Aaj Phir Kisi Ne Pucha Ke Tera

आज फिर किसी ने पुछा के तेरा,
हसता हुआ चेहरा उदास क्यों है?
बरसती आँखों मे प्यास क्यों है?
जिनकी नज़रों मे तु कुछ भी नही!
वही तेरे लिए इतना खास क्यों है?

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.