Dosti Ka Ehsas Dil Se Kam Na Karna

याद आये तो आँखे बंद ना करना,
हम Status ना करे तो गम ना करना,
गलती हो हमसे तो हमे माफ करना,
पर दोस्त ‘दोस्ती’ का एहसास दिल से कम ना करना…

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.