Eid Hindu Muslim Shayari

दोस्ताना कम से कम इतना
बरकरार रखो कि,
मजहब बीच में न आये..
कभी तुम उसे मंदिर तक छोड दो,
कभी वो तुम्हे मस्जिद छोड आये..!!

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.