Hamari Kismat Me Chahat Nahi

हमे उनसे कोई शिकायत नहीं,
शायद हमारी ही किसमत में चाहत नहीं,
मेरी तक़दीर को लिखकर तो ऊपर वाला भी मुकर गया,
पूछा तो कहा ये मेरी लिखावट नहीं…

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.