Har Kisi Ko Dost Aapke Jaisa Nahi Milta

तकदीर के रंग कितने अजीब है,
अनजाने रिश्ते है फिर भी करीब है,
हर किसी को दोस्त आपके जैसा नही मिलता,
मुझे आप मिले यह मेरा नसीब है…

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.