Itni Cahat Ke Baad Bhi Jo Meri Na Hui

चली जाने दो उसे किसी और कि बाहों मे,
इतनी चाहत के बाद भी जो मेरी ना हुई,
वो किसी और की क्या होगी…

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.