Krodh Aur Chinta

मनुष्य सुबह से शाम तक काम करके
उतना नही थकता,
जितना क्रोध और चिंता से एक क्षण में थक जाता है…

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.