Kya Hua Jo Bhagwan Ne Gam De Diye

सुख भी बहोत है, परेशानियाँ भी बहोत है,
जिंदगी में लाभ है तो हानियाँ भी बहोत है,
क्या हुआ जो “भगवान” ने थो़ड़े ग़म दे दिये,
उसकी हम पर “मेहरबानियाँ” भी बहोत है…

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.