Kya Karoge Itna Paisa Kama Kar

मिली थी जिंदगी,
किसी के काम आने के लिए..
पर वक्त बित रहा है,
कागज के टुकड़े कमाने के लिए..
क्या करोगे इतना पैसा कमा कर..?
ना कफन में ‘जेब’ है ना कब्र में ‘अलमारी’,
और ये मौत के फ़रिश्ते तो,
रिश्वत भी नहीं लेते…

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.