Kyon Karti Hai Yaade Pareshan

अजीब लगती है शाम कभी-कभी,
ज़िंदगी लगती है बेजान कभी-कभी,
समज में आये तो हमे भी बताना कि,
क्यों करती है यादे परेशान कभी-कभी…

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.