Rakhta Hai Jo Housla Aasmaan Ko Chune Ka

परिंदों को नही दी जाती
तालीम उड़ानों की,
वो खुद ही तय करते है
मंजिल आसमानों की…!
रखता है जो होसला
आसमान को छूने का,
उसको नही होती परवाह
गिर जाने की…!

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.