Rupiya Kitna Bhi Gir Jaye

रूपया कितना भी गिर जाये
इतना कभी गिर नहीं पायेगा,
जितना के रुपयों के लिए
इंसान गिर चूका है…

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.