Kabhi Musibat Na Aaye A Dost Tujh Par

Kabhi Musibat Na Aaye A Dost Tujh Par

तू सलामत रहे दुवा है यह हमारी, दोस्ती के लिए सोचना आदत है हमारी, कभी मुसीबत ना आये ए दोस्त तुझ पर, यही हरपल दिल से दुवा है हमारी…