Rote Rahe Tum Bhi Aur Hum Bhi

Rote Rahe Tum Bhi Aur Hum Bhi

रोते रहे तुम भी, रोते रहे हम भी,
कहते रहे तुम भी और कहते रहे हम भी,
ना जाने इस ज़माने को हमारे इश्क़ से क्या नाराजगी थी,
बस समझाते रहे तुम भी और समझाते रहे हम भी…