Rishte Nibhana Jante Hai

Rishte Nibhana Jante Hai

हम फूल तो नहीं,
पर महकना जानते है,
बिना रोये गम
भुलाना जानते है,
लोग खुश होते है हमसे,
क्योंकि हम बिना मिले ही
रिश्ते निभाना जानते है…