Uski Aankho Me Aansu Aur Chehre Par Hasi Thi

मैंने दरवाजा खोला तो,
उसकी आँखो मे आँसू, चेहरे पर हँसी थी,
साँसो मे आहे, दिल मे बेबसी थी,
पगली ने पहले नही बताया की,
दरवाजे मे उसकी ऊँगली फँसी थी…

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.