Wo Phir Se Aaj Hame Rulane Aaye Hai

मोहब्बत की दास्तान सुनाने आए है,
तबाह करने के बाद वो प्यार जताने आए है,
आँसू पोंछ लिए थे हमने कब के,
मगर वो फिर से आज हमे रुलाने आए है…

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.