Yakin Banake Log Zindagi Me Aate Hai

यकीन बनके लोग जिंदगी मे आते है,
ख्वाब बनके आँखों मे समा जाते है,
पहले तो ये यकीन दिलाते है की वो हमारे है,
फिर न जाने क्यों तनहा छोड जाते है…

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.